भाजपा के पूर्व मंत्री ने कहा- RSS को हथियार रखने की मिले इजाज़त

यहाँ से शेयर करें

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सुरेश कुमार ने कहा कि कुटप्पाै, प्रवीण पुजारी, राजू और रुद्रेश की हत्या.ओं से साफ होता है कि पुलिस उनकी सुरक्षा में नाकाम रही.

हमने पुलिस कमिश्नर से कहा है कि यदि वे हमारे कार्यकर्ताओं की रक्षा नहीं कर सकते तो हमें हथियार लाइसेंस मुहैया करा दें. हम पीडि़त नहीं हैं, हम योद्धा हैं. हमें पता है खुद की सुरक्षा कैसे की जाती है.

रुद्रेश आर की दो मोटरसाइकिल सवार युवकों ने पिछले दिनों हत्याा कर दी थी. हालांकि भाजपा और आरएसएस के कनार्टक के पूर्व कानून मंत्री ने कहा कि सरकार और पुलिस कई बार आरएसएस कार्यकर्ताओं की रक्षा करने में असफल रही है.

संगठन को लगातार निशाना बनाया जा रहा है. उन्हों”ने आरोप लगाया कि दोषियों को बचाने के लिए पुलिस पर राजनीतिक दबाव डाला जा रहा है. भाजपा नेता शोभा करांदलजे ने इन हत्या‍ओं को षड़यंत्र का हिस्साो बताया.

आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या के बाद बेंगलुरु में तनाव फ़ैल गया, चार थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दिया गया. वहीं आरएसएस ने सुरेश कुमार के बयान से खुद को किनारे कर लिया. उसकी ओर से कहा गया कि उसे पुलिस और न्या यपालिका में भरोसा है.