राजस्थान – महिला डॉक्टर कुछ इस तरह करती है इस्लाम धर्म का प्रचार

यहाँ से शेयर करें

राजस्थान के बीकानेर जिला जहां एक महिला डॉक्टर बखूबी अपने मरीजों का इलाज़ कर रही है और साथ ही उन्हें बिमारियों से बचने का एक कारगर उपाय भी बता रही है l

इस सरकारी अस्तपताल की ये डॉक्टर मरीजों को कुछ ऐसी सलाह देती है जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएँगे l ये महिला डॉक्टर मरीजों को दवाई देने के बाद इस्लाम कबूलने की सलाह देती है l साथ ही ये कहती हैं कि इस इस उपाय से मरीज़ कई बिमारियों से निजात पा लेगाl

बीकानेर के मुक्ता प्रसाद नगर स्थित शहर चिकित्सालय में तैनात डॉक्टर जमीमा हयात पर ऐसे आरोप हैं कि वे अपने मरीजों का बीमारियों से निजात के लिए इस्लाम धर्म कबूल ने की सलाह देती हैं। डॉक्टर जमीमा पर कई लोग आरोप लगा चुके है कि ये महिला लोगों को इस्लाम कबूल करने की सलाह देती है.

जिसके डर से कई लोगों ने अस्तपताल जाना छोड़ दिया है l लगातार मिल रही शिकायत के बाद बीकानेर के सीएमएचओ डॉ. देवेंद्र चौधरी ने जमीमा हयात को चेतावनी वाला नोटिस जारी किया है।

इस नोटिस में कहा गया है कि वे ऐसा न करें। सीएमएचओ से नोटिस मिलने के बावजूद यह सिलसिला नहीं थम रहा। उनके खिलाफ अब भी शिकायतें आ रही हैं। मरीजों के अलावा अस्पताल के स्टाफ में भी वे प्रेक्टिस दौरान धर्म परिवर्तन करने की बातें कहती हैं।

लैब टेक्निशियन राजकुमार की माने तो डॉक्टर किसी की नहीं सुनती, हमेशा अपनी ही मनमर्जी से काम करती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो यह मामला अब प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच गया है और पीएमओ ने इस मामले में जांच करने के आदेश जारी किए हैं।