गुजरात- वेजलपुर में दलित-मुसलमान भाई-भाई के नारे गूंज रहे

यहाँ से शेयर करें

अहमदाबाद। ऊना में दलितों की कथित पिटाई के बाद सड़को पर उतरे दलित समुदाय को मुसलमानो का पूरा सहयोग मिल रहा है। सबसे अहम बात है कि इस यात्रा में जय भीम के साथ दलित मुसलमान भाई भाई के नारे भी गूंज रहे हैं ।गौरक्षकों के आतंक के खिलाफ दलित और मुस्लिमो की एकजुटता से निपट पाना गुजरात सरकार के लिए बड़ी चुनौती है

हालाँकि स्वयं प्रधानमंत्री ने दो बार कथित गौ रक्षको को बेनकाब करने और उन पर कड़ी कार्यवाही करने की बात कही है । उनके बयान के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी राज्य सरकारों को निर्देश जारी कर राज्यो में कथित गौरक्षकों पर लगाम कसने और कार्यवाही करने को कहा है।अहमदाबाद के वेजलपुर इलाके से शुरू हुई ये पदयात्रा ऊना में समाप्त होगी इस यात्रा में कई लोगों के जुड़ने की सम्भावना हैं।

इस यात्रा के दौरान दस दिन में 380 किलोमीटर की दूरी तय की जायेगी । दलित अत्याचार संघर्ष समिति ने ऊना की घटना के विरोध में आंदोलन छेड़ रखा है । समिति के संयोजक जिगनेश मेवानी ने बताया कि दलितों के हित में कई मांगें रखी गई हैं । समिति की मांगों में गुजरात के भूमिहीन दलितों को पांच-पांच एकड़ जमीन, ऊना की घटना के पीड़ितों को न्याय, तय वेतन पर काम कर रहे राज्य के सफाईकर्मियों को स्थाई नियुक्ति करने आदि शामिल हैं ।