चाइना ने किया भारत का पानी बंद, आप चाइना के बहिष्कार के लिए करे यह काम

यहाँ से शेयर करें

चाइना कहीं न कही अपनी चले भारत के ख़िलाफ़ चलने से बाज़ नहीं आ रहा है। चाइना ने एक बार फिर भारत के लिए मुश्किलें एक बार फिर मुश्किलें खड़ी कर दी है। चाइना ने अपने हाइड्रो प्रोजेक्ट के लिए तिब्बत में भ्रमपुत्र नदी की एक सहायक नदी को बंद कर दिया है।

चाइना के इस नापाक कदम से भारत के असम, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश में पानी की भरी कामी आ गई है।
चाइना की एक सरकारी अख़बार एजेंसी ने यह जानकारी दी। भ्रामपुत्र नदी पर बने बने हुए चीन के हाइड्रो प्रिजेक्ट पर करीब 8 हज़ार करोड़ डॉलर की लागत है। जिस के द्वारा चाइना ने भारत को मिलने वाले पानी को रोक दिया है।

हाल ही में हुए उरी हमले के बाद भारत सिंधु नदी समझौता को रद्द करने का विचार किया जा रहा है। बही दूसरी तरफ चाइना अपनी नापाक चालों को चलकर भारत के लिए मुश्किलें खड़ी कर रहा है। हाल ही में पाकिस्तान ने कहा था की कहा था की अगर भारत सिंधु नदी का पानी रोकता है तो हम भारत को चीन से मिलने वाले पानी को रुकवा देंगे।

जबकि चाइना ने भारत पाक के बीच चल रहे तनाव पर किसी का भी पक्ष नहीं लिया है।और बातचीत से मामले का हल निकालने के लिये कहा है। अब भारत के वासियों को देश हित के लिए चाइना द्वारा निर्मित वस्तुओं का वहिष्कार करना चाहिये। हमारे द्वारा उपयोग की जाने वाली चाइना निर्मित वस्तएं से ही चाइना की अर्थव्यस्था को मजबूती देती है।

देश हिट के लिए इतना तो करना होगा स्वदेशी अपनाओ का नारा लगाकर चाइना द्वरा निर्मित वस्तुओं का उपयोग पूरी तरह बंद करना होगा।