भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय की नाली कंडोम से जाम मिली

यहाँ से शेयर करें

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय की नालियों का यूज्ड कंडोम से जाम होना अपने आपमें बहुत कुछ कहता है. दीपावली के अवसर पर जब बीजेपी कार्यालय की साफ़-सफाई की रही थी तो सफाईकर्मी की आँखे उस समय खुली की खुली रह गई जब उसने वहां की नाली को कंडोमों से भरा देखा.

आरएसएस की पाठशाला में अनुशासन और सद्चरित्र की शिक्षा लेने वाले भाजपाइयों का चरित्र कितना गिर गया है इसका अंदाजा इस खबर से बखूबी लगाया जा सकता है.

भारतीय जनता पार्टी का प्रदेश कार्यालय बलवीर रोड पर स्थित है आजकल केंद्रीय मंत्रियों से लेकर केंद्रीय पदाधिकारियों के आगमन से गुलजार रहता है। भाजपा दफ्तर को दीपावली से पहले ही बिजली की रोशनी से दुल्हन की तरह सजा दिया गया था। चारों ओर डेंटिंग-पेंटिंग से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया की छाप वाला जिओ नेटवर्क भी लगा दिया गया है।

साफ-सफाई करते-करते जब प्रदेश पदाधिकारियों की उपस्थिति में स्वीपर ने सीवर का ढक्कन खोला तो देखा कि सैकड़ों यूज्ड कंडोम से नाली चोक हो रही थी। आनन-फानन में पानी की बाल्टियां मराकर कंडोम बहा दिए गए।लेकिन सबाल यह है की भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय की नाली में इतने कंडोम कहाँ से आये? क्या भारतीय जनता पार्टी का कार्यालय अय्याशी का अड्डा बन गया है? ये ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब खुद बीजेपी के नेताओं को तलाशना होगा.

आगामी 2017 के चुनाव से ठीक पहले हुई इस घटना से पार्टी पदाधिकारियों में खूब खुसर-पुसर हो रही है। कोई प्रदेश कार्यालय में बने आलीशान बैडरूम की चर्चा कर रहा है तो कोई पदाधिकारियों के लंबे समय से कार्यालय में प्रवास पर हंसी-ठिठोली कर रहा है.

लेकिन कुल मिलाकर प्रत्येक इस बात पर एकमत है कि ये काम तो किसी कुंआरे का ही है जो कुर्सी से चिपके रहने के लिए शादी नहीं कर रहा। बहरहाल, कीचड़ में कमल खिलते तो सुना ही था, अब भाजपा दफ्तर के सीवर से कंडोम निकलने पर चर्चाओं का बाजार गरम होना लाजिमी है।